आज के जमाने में UPSC परिक्षा की तैयारी करके IAS बनना छात्र – छात्राओं का एक बडा सपना है । हर कोई इस परिक्षा को पार नहीं कर पाता । आपने कहीं न कहीं तो IAS Exam के बारे में जरूर सुना होगा और साथ ही यह भी सुना होगा की IAS के इंटरव्यू में किस तरह के घुमावदार सवाल पूछे जाते हैं । IAS बनना लगभग हर स्टूडेंट्स का सपना होता है लेकिन सफलता कुछ को ही मिलती है । कुछ स्टूडेंट्स तो कई बार प्रयास के बाद भी सफल नहीं होते हैं । ऐसा नहीं है कि वे मेहनत नहीं करते पर जिनका IAS के लिए सलेक्शन होता है उनमें कुछ अलग बात होती है । मन में देश की सेवा भावना रखने वाले OP Choudhary जी उन सफल स्टूडेंट्स में से एक हैं । जिन्होंने पहली कोशिश में ही IAS परिक्षा में सफल हो गए । वे रायपुर के कलेक्टर रह चुके हैं उन्होंने अपने जन्मभूमि की सेवा के लिए IAS पद से इस्तीफा दे दिया और BJP जॉइन कर लिया ।

नाम (Name) – ओमप्रकाश चौधरी ( OP. Choudhary)
पिता (father ) – स्व. दीनानाथ चौधरी
माता (mother) – श्रीमती कौशल्या चौधरी
जन्म तिथि (Date Of Birth) – 02/06/1981
जन्मस्थल (Birth place) – बायंग, जिला – रायगढ़ (छ.ग.) भारत
पत्नी (wife) – ज्ञात नहीं

O.P. Choudhary जी का जीवनी ( O.P. Choudhary Biography In Hindi)

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले के एक छोटे से गांव बायंग में जन्मे ओ पी चौधरी जी ने एक छोटे से गांव के सरकारी स्कूल से पढ़कर पहली बार में ही IAS परिक्षा में क्वालीफाई हो गए । O.P. Choudhary जी का सफलता का सफर बहुत से उतार चढाव से भरा हुआ था । 12 वीं तक की पढ़ाई उन्होंने गांव के ही सरकारी स्कूल में पुरा की उसके बाद ग्रेजुएशन ( Graduation) के लिए उन्होंने भिलाई के कॉलेज (College) में अध्ययन किया । इसी बीच वे IAS की परिक्षा के तैयारी में लग गए कहते हैं न सच्चे लगन से किया गया मेहनत कभी बेकार नहीं जाता ठिक OP Choudhary जी के साथ हुआ । वे पहली बार में ही IAS की परिक्षा में सफल हो गए ।
22 वर्ष के ही उम्र में ही 2005 बैच में IAS अधिकारी चुने गए वे वर्तमान में रायपुर के कलेक्टर चुने गए । 8 साल की उम्र में ही पिता जी का साथ छुट गया था पर इनकी माता जी ने इनकी आगे की पढाई में कोई बाधा नहीं आने दी । एक न्यूज वेबसाइट के मुताबिक इनकी माता जी नें 5 तक की पढाई की है और उन्होंने पेन्सन से ही अपने तीन बच्चों को पढाया । सचमें माँ का दिल बहुत बडा होता है ।
वे पहले से ही निर्धारित कर लिए थे की उन्हें IAS मतलब की कलेक्टर ही बनना है । वे 12 वी के बाद PET ( Pre Engineering test) परिक्षा में हिस्सा लिए और सफल भी हो गए पर IAS बनने के चाह के कारण उन्होंने इसे छोड दिया । न्यूज वेबसाइट patrika.com में पब्लिश इंटरव्यू के मुताबिक OP Choudhary जी ने 6 वीं कक्षा में ABCD पढना सिखा ।
वे छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह जी के काफी करीबी माने जाते हैं । अपने जन्मभूमि की सेवा के उद्देश्य से उन्होंने IAS पद से इस्तीफा दे दिया और BJP जॉइन कर लिया ।

OP Choudhary जी का कैरियर संबंधित सामान्य जानकारियां –

– IAS क्वालीफिकेशन के बाद 2005 बैच मेें इनका सलेक्शन हुआ ।
– ओपी की पहली पोस्टिंग असिस्टेंट कलेक्टर के रूप में 2006 में कोरबा में हुई, इसके बाद 2007 में उन्हें रायपुर में एसडीओ बनाया गया।
– 2007 में उन्हें जांजगीर जिला पंचायत का सीईओ बनाया गया।
– साल 2011 में उन्हें दंतेवाड़ा में कलेक्टर के तौर पर पदस्थ किया गया।
– दंतेवाड़ा कलेक्टर के पद पर रहते हुए उन्होंने आदिवासी क्षेत्रों में रहने वाले बच्चों को विज्ञान की शिक्षा के लिए प्रोत्साहित किया।
– इंजीनियरिंग तथा मेडिकल कॉलेजों की प्रवेश परीक्षाओं के लिए विशेष कोचिंग दिलाने के लिए सुविधाओं के साथ आवासीय स्कूल की शुरुआत कराई।
– गीदम ब्लाक में स्थित एक छोटे से गांव जावंगा को 2011 में शिक्षा के एक बड़े केन्द्र के रूप में विकसित किया।
– उन्होंने जिले में लाइवलीहुड कॉलेज की भी शुरुआत की। जिसे बाद में पूरे प्रदेश में लागू किया गया।
– 2011-12 में बेहतर काम के लिए उन्हें तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह द्वारा एक्सीलेंस अवार्ड दिया गया था।

(Carrier details Source – Bhaskar.com)

I hope आपलोगों को OP Choudhary Biography या कहें OP Choudhary Wiki in hindi अच्छी लगी होगी । अगर आपको इस जानकारी में कुछ जानकारी गलत लगे तो कृपया कमेन्ट करके बताऐं और इस wiki में से कुछ जानकारी Internet से लिया गया है लेकिन हमने उन sites का create mention किया है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here